हुंडई वेन्यू

हुंडई वेन्यू 5 सीटर कॉम्पैक्ट एसयूवी है। जिसकी प्राइस ₹ 7.53 - 12.72 लाख है। It is available in 16 variants, 998 to 1493 cc engine options and 3 transmission options : मैनुअल, क्लचलेस मैनुअल (आईएमटी) and ऑटोमैटिक (डीसीटी). Other key specifications of the वेन्यू include a ग्राउंड क्लियरेंस of 195 mm और बूटस्पेस of 350 लीटर्स. वेन्यू 7 रंगों में उपलब्ध है। वेन्यू का माइलेज 17.5 किमी प्रति लीटर से 23.4 किमी प्रति लीटर के बीच है।

What Is Moving Average | How To Calculate Moving Average | Moving Average Ke Fayede

मूविंग एवरेज क्या होता है और ये कैसे काम करता है - WHAT IS MOVING AVERAGE & HOW IT WORKS - अगर आप ट्रेडिंग करते है या सीखना चाहते हैं तो ये नाम आपको सुना - सुना सा अवश्य लगेगा जब आप स्टॉक ट्रेडिंग के लिए स्टॉक का चुनाव करते हैं तो ये कुछ पैरामीटर की आपको काफी आवश्यकता पड़ेगी तभी आप सही और अच्छे स्टॉक का चुनाव कर पाएंगे

जैसा मैंने आपसे पहले भी बताया था कि स्टॉक के चुनाव के वक़्त जितने ज्यादा इंडिकेटर और पैरामीटर मिलते हैं उतना हमारा स्टॉक के प्रति विश्वास बढ़ता है वो हमारी उम्मीदों पर खरा उतरता है तो चलिए शुरू करते हैं कि मूविंग एवरेज क्या होता है

मूविंग एवरेज का अर्थ हिंदी में गतिशील औसत होता है यानि कि इसको हम ऐसा औसत कह सकते हैं जो गतिशील है मतलब कि समय के साथ आगे बढ़ना मतलब मूव होना और हर औसत, पिछले औसत से आगे चलना जबकि टाइम फ्रेम निश्चित रहता है मूविंग एवरेज को टेक्निकल एनालिसिस में अलग - अलग टाइम फ्रेम के सामान्य एवरेज को चार्ट में एक साथ अलग - अलग लाइन के साथ भी देखा जाता है

मूविंग एवरेज ( MA ) & सिंपल मूविंग एवरेज ( SMA ) में अंतर

कुछ लोग इन दोनों को अलग - अलग मानते हैं जबकि वास्तव में ये एक ही होते हैं मूविंग एवरेज ( MA ) की बात होती है तो ये वास्तव में सिंपल मूविंग एवरेज ( SMA ) की ही बात हो रही होती है बस कुछ लोग इसे मूविंग एवरेज ( MA ) कहते हैं तो कुछ लोग इसे सिंपल मूविंग एवरेज ( SMA ) इसीलिए शेयर मार्किट में नये लोग कंफ्यूज हो जाते हैं

टेक्निकल एनालिसिस में मूविंग एवरेज को उपयोग में लिया जाता है और इसे चार्ट में एक लाइन के द्वारा प्रदर्शित किया जाता है और यह लाइन वास्तव में कई औसत के बिंदुओं को मिला करके बनाया जाता है उदाहरण के तौर पर अगर हम पर १० दिन के औसत की बात करें तो जिस दिन से मूविंग एवरेज कैलकुलेट करने की बात की जा रही है

तो पिछले १० दिन का औसत फिर अगले दिन से पिछले १० दिन का औसत इन्ही बिंदुओं को मिला के मूविंग एवरेज की लाइन खींची जाती है वैसे आपको बतादूँ कि आपको इतनी मेहनत और कैलकुलेशन करने की कोई आवश्यकता नहीं हैं

हम जो भी चार्ट इस्तेमाल कर रहे होते हैं उसमे हमें ये सुविधा दी गयी होती है यहां मै सिर्फ आपको इसका मतलब समझाने की कोशिश कर रही थी वैसे नीचे मैंने एक चित्र दिखाया है आपको समझाने के लिए जिसमे लाल और हरी लाइन MA और EMA की हैं यहां हम सिर्फ MA की बात कर रहे हैं EMA को हम अगले अध्याय में समझेंगे

हम जो भी अपनी जिंदगी में औसत शब्द का इस्तेमाल करते हैं उसमे औसत सिर्फ एक होता है जैसे कोई व्यक्ति कार से कहीं घूमने जाता है तो पहले दिन 8 Km. दूसरे दिन 14 Km. तीसरे दिन 12 Km. चौथे दिन 18 Km. तो अगर आपको एवरेज निकलना आता है तो आप स्वयं निकाल सकते हैं नहीं आप 200 दिन मूविंग एवरेज की गणना कैसे करते हैं? तो मै आपको बताती हूँ कुल घूमने की संख्या / दिनों की संख्या

तो इस प्रकार एवरेज 13 आया तो ये कहा जायेगा की उस व्यक्ति ने औसत कार 13 Km. चलायी तो चलिए अब देखते हैं कि मूविंग एवरेज कैसे बनता है और ये कैसे काम करता है

मूविंग एवरेज कैसे बनता है और ये कैसे काम करता है

जैसा कि हमने अभी तक आपको बताया कि मूविंग एवरेज एक लाइन होती है और ये कई अलग - अलग बिंदुओं को मिला करके बनाई जाती है लेकिन जब औसत संख्याओं कि एक सीरीज को आगे बढ़ता हुआ दिखाया जाता है तो उसी को मूविंग एवरेज कहा जाता है मूविंग एवरेज निकालने के लिए जो आवश्यक डाटा की जरुरत पड़ती है वो निम्न हैं

1. टाइम फ्रेम : माना अगर 10 दिन का मूविंग एवरेज निकलना है आपको तो पिछले 10 दिन का पहला पॉइंट ही आपके मूविंग एवरेज का पहला पॉइंट होगा

2. अगला एवरेज : अब ऐसे ही अगले 10 दिन के लिए भी पिछले बिंदुओं को मिलाया जाता है जैसे ऊपर मैंने कार का उदाहरण भी दिया था

ये तो एक टेक्निकल बात थी हो सकता है कि इसमें आपको काफी सारी चीजें समझ में ना आयी हों तो चिंता की कोई बात नहीं ये सिर्फ आपको इसका मतलब समझाने के लिए था बाकी आप जब चार्ट बनाएंगे तो आप उसमे मूविंग एवरेज को दिन के हिसाब से खुद सेट कर सकते हो लेकिन समझाना इसलिए जरूरी होता है कि हर एक चीज का बेसिक समझना बेहद जरूरी होता है मै इसको एक चार्ट के माध्यम से आपको दिखाती हूँ

अधिकतर चार्ट में हम दो या तीन मूविंग एवरेज को रखते हैं किन्तु अभी मैंने आपको केवल एक मूविंग एवरेज के बारे में बताया है अब मै आपको अगले अध्याय में अगले मूविंग एवरेज के बारे में बताउंगी जिसको एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज कहा जाता है दोस्तों ये आपको ट्रेड लेने के लिए जानना बेहद जरुरी है क्योंकि इसके बिना आपका चार्ट अधूरा है तो अब मिलते हैं

आपको मेरा ये लेख कैसा लगा ये आप कमेंट करके अवश्य बताएं और कोई सवाल हो तो भी पूछें आपको आपके हर सवाल का जवाब अवश्य मिलेगा और मुझे फॉलो करलें ताकि मेरी अगली पोस्ट का नोटिफिकेशन आपको मिल जाये - धन्यवाद्

Bitcoin में रिकवरी के लिए लंबे इंतजार का संकेत दे रहे टेक्निकल इंडिकेटर्स

बिटकॉइन के प्राइस में बड़ी गिरावट से क्रिप्टो मार्केट से जुड़ी फर्मों और इनवेस्टर्स को काफी नुकसान हुआ है

Bitcoin में रिकवरी के लिए लंबे इंतजार का संकेत दे रहे टेक्निकल इंडिकेटर्स

बिटकॉइन में दोबारा बड़ी गिरावट आने की आशंका भी बन रही है

खास बातें

  • इन्फ्लेशन बढ़ने का भी बिटकॉइन के प्राइस पर असर पड़ रहा है
  • यह पिछले एक महीने से अधिक से 200 सप्ताह के मूविंग एवरेज के आसपास है
  • बिटकॉइन में गिरावट से इनवेस्टर्स को काफी नुकसान हुआ है

मार्केट कैपिटलाइजेशन के लिहाज से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन में रिकवरी का इंतजार के लिए लंबा इंतजार करना पड़ सकता है. यह संकेत कुछ टेक्निकल इंडिकेटर्स से मिल रहा है. बिटकॉइन के प्राइस में बड़ी गिरावट से क्रिप्टो मार्केट से जुड़ी फर्मों और इनवेस्टर्स को काफी नुकसान हुआ है.

लगभग दो महीने से इस सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट के बड़े कारणों में स्लोडाउन और अमेरिका के फेडरल रिजर्व सहित बहुत से देशों के सेंट्रल बैंक की ओर से इंटरेस्ट रेट्स में की गई बढ़ोतरी है. इसके अलावा इन्फ्लेशन बढ़ने का भी इस पर असर पड़ रहा है. Reuters की रिपोर्ट के अनुसार, इस क्रिप्टोकरेंसी का प्राइस लगभग 22,600 डॉलर के इसके 200 सप्ताह के मूविंग एवरेज और लगभग 35,500 डॉलर के इसके 200 दिन के मूविंग एवरेज से नीचे आ गया है. यह पिछले एक महीने से अधिक से 200 सप्ताह के मूविंग एवरेज के आसपास है.

Valkyrie Investments का कहना है कि इंडिकेटर्स से इसमें तेजी आने का संकेत मिल रहा है लेकिन ऐसा कब तक होगा यह स्पष्ट नहीं है. आमतौर पर 200 सप्ताह के मूविंग एवरेज के आसपास रहने के तीन से छह महीने के बाद प्राइस में तेजी आने की संभावना होती है. लगभग तीन वर्ष पहले भी बिटकॉइन लगभग तीन महीने तक 200 सप्ताह के मूविंग एवरेज के आसपास रहा था. हालांकि, स्लोडाउन और क्रिप्टो मार्केट में बिकवाली जैसे अन्य कारणों से इसमें तेजी आने में लगभग एक वर्ष भी लग सकता है. कुछ अन्य टेक्निकल इंडिकेटर्स बिटकॉइन के लिए सपोर्ट के कुछ लेवल्स दिखा रहे हैं. यह 12,000 डॉलर से लगभग 20,000 डॉलर के बीच हैं. इससे बिटकॉइन में दोबारा बड़ी गिरावट आने की आशंका भी बन रही है.

बड़े क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों पर स्पॉट ट्रेडिंग जून में लगभग 27.5 प्रतिशत घटकर लगभग 1.41 लाख करोड़ डॉलर की रही. यह पिछले लगभग डेढ़ वर्ष का लो लेवल है. बिजनेस एनालिटिक्स फर्म MicroStrategy के CEO और क्रिप्टोकरेंसीज के समर्थक Michael Saylor ने हाल ही में बिटकॉइन की वास्तविक वैल्यू पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने कहा था कि अमेरिका में इन्फ्लेशन के 9.1 प्रतिशत के साथ रिकॉर्ड लेवल पर पहुंचने और डॉलर के मुकाबले अन्य करेंसीज के कमजोर होने के साथ बहुत से लोगों को यह समझ नहीं आ रहा कि 1 बिटकॉइन की वैल्यू 1 बिटकॉइन से अधिक नहीं है. उन्होंने इससे यह स्पष्ट कर दिया कि वह क्रिप्टोकरेंसीज के प्राइस की तुलना सामान्य करेंसीज के साथ नहीं करते और बिटकॉइन के प्राइस पर मैक्रो इकोनॉमिक स्थितियों के कड़े दबाव के बावजूद इसकी वास्तविक वैल्यू पर असर नहीं पड़ा है.

3 रुपये के शेयर ने निवेशकों को बनाया करोड़पति, 6 साल में 1 लाख बन गया 2 करोड़

Multibagger Penny Stocks: अगर एक निवेशक ने एक साल पहले इस मल्टीबैगर स्टॉक में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता तो यह आज 8.70 लाख रुपये हो गया होता.

3 रुपये के शेयर ने निवेशकों को बनाया करोड़पति, 6 साल में 1 लाख बन गया 2 करोड़

Multibagger Stocks: शेयरों में निवेश करना बिजनेस में निवेश करने जैसा है. दिग्गज निवेशकों के मुताबिक, जब वेंचर कैपिटलिस्ट और विभिन्न अन्य निवेशक स्मॉल और मीडियम साइज की कंपनियों में निवेश करते हैं, एक बार जब वे बिजनेस मॉडल और इसकी निरंतर व्यावसायिक क्षमता के बारे में आश्वस्त हो जाते हैं. शेयरों (Stock Market) में निवेश करते समय भी ऐसा ही करना चाहिए. एक बार जब आप किसी स्टॉक में निवेश करते हैं तो आपको लंबे समय तक निवेश करने कोशिश करनी चाहिए. यह एक निवेशक को चक्रवृद्धि (Compounding) लाभ प्राप्त करने में मदद करता है और छोटी अवधि में आप 200 दिन मूविंग एवरेज की गणना कैसे करते हैं? बड़ी राशि जमा करता है. जीआरएम ओवरसीज (GRM Overseas) का शेयर इसका बेहतर उदाहरण हैं. राइस मिलिंग कंपनी का स्टॉक पिछले 5 वर्षों में 3 रुपये के स्तर से बढ़कर 591.90 रुपये पर पहुंच गया है, जो इस अवधि में लगभग 200 गुना बढ़ गया है.

पिछले एक महीने में यह मल्टीबैगर स्टॉक बिकवाली के आप 200 दिन मूविंग एवरेज की गणना कैसे करते हैं? दबाव में है. जियोपॉलिटिकल टेंशन के कारण निगेटिव सेंटीमेंट्स के कारण बाजार में बिकवाली का माहौल है. जियोपॉलिटिकल टेंशन के कारण वैश्विक इक्विटी बाजारों में कमजोरी के कारण पिछले एक महीने में इस मल्टीबैगर स्टॉक में 17 फीसदी की गिरावट आई है. लेकिन, पिछले 6 महीनों में इस मल्टीबैगर शेयरों की कीमत 196 रुपये से बढ़कर 191.90 रुपये के स्तर पर पहुंच गई है, जो अवधि में लगभग 200 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

1 साल में 770 फीसदी रिटर्न

पिछले एक साल में पेनी स्टॉक लगभग 68 रुपये से बढ़कर 591.90 रुपये के भाव पर पहुंच गया है. इस दौरान इसमें 770 फीसदी की तेजी दर्ज की गई. इसी तरह, पिछले 6 वर्षों में यह मल्टीबैगर पेनी स्टॉक 3 रुपये 11 मार्च 2016 को बीएसई पर बंद कीमत से बढ़कर 4 मार्च 2022 को 591.90 रुपये पर पहुंच गया. इस अवधि में लगभग 19,900 फीसदी की तेजी आई.

1 लाख बना 1 करोड़ रुपये

अगर किसी निवेशक ने जीआरएम ओवरसीज के शेयर में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता, तो उसका 1 लाख आज 83,000 रुपये हो जाता, जबकि यह 6 महीने में 3 लाख रुपये हो जाता. अगर एक निवेशक ने एक साल पहले इस मल्टीबैगर स्टॉक में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता, तो यह आज 8.70 लाख रुपये हो जाता.

इसी तरह, अगर किसी निवेशक ने 6 साल पहले इस पेनी स्टॉक में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता और इस अवधि के दौरान शेयर में निवेश किया था, तो यह आज 2 करोड़ रुपये हो गया होता.

‘मिंट’ की रिपोर्ट के मुताबिक, IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने जीआरएम ओवरसीज शेयर फिलहाल 200 दिन के मूविंग एवरेज से नीचे कारोबार कर रहा है. यह जनवरी 2022 में 935.40 रुपये हाई पर पहुंचने के बाद गिरावट में कारोबार कर रहा है. इस स्टॉक को 454 रुपये के स्तर पर स्टॉप लॉस के साथ 500 रुपये से 510 रुपये की रेंज में खरीदा जा सकता है.

Most Accurate Intraday Trading Indicators-सबसे सटीक इंट्राडे ट्रेडिंग संकेतक - stockorion.in

इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए एक बेहद आकर्षक और प्रभावशाली चीज है लेकिन क्या इसे जारी रखना सुरक्षित और लाभदायक है ?

हां , लेकिन यह उचित संकेतकों के साथ वैज्ञानिक होना चाहिए। इंट्राडे ट्रेडिंग गैंबलिंग से कैसे अलग है। व्यापार का पूरा विचार लाभ से प्रेरित है जहां आप अपने निवेश पर वापसी की उम्मीद कर रहे हैं।

इंट्राडे ट्रेडिंग का मतलब होता है एक दिन के अंदर की गई ट्रेडिंग। ट्रेडिंग का उद्देश्य इसके साथ लाभ कमाना है , इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि लाभ का उद्देश्य क्या है और इसे एक दिन के भीतर ही पूरा करना है। भारतीय शेयर बाजार में ट्रेडिंग सुबह 9.15 बजे शुरू होती है और दोपहर 3.30 बजे तक खुली रहती है। सोमवार से शुक्रवार तक। अगर आप सुबह कोई ट्रेड लगाते हैं तो आपको बाजार बंद होने से पहले उससे बाहर निकलना होगा। यदि आप ऐसा करने में विफल रहते हैं तो आपका ब्रोकर आपको स्वचालित रूप से बाहर निकलने देगा लेकिन इसके लिए आप पर जुर्माना लगाया आप 200 दिन मूविंग एवरेज की गणना कैसे करते हैं? जाएगा क्योंकि ब्रोकर को आपके लिए यह करना होगा।

इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए संकेतकों की समझ

प्रवृत्ति को समझना बहुत बुनियादी बात है। मार्केटिंग का समग्र रुझान क्या है चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक फिर विशेष सुरक्षा के व्यक्तिगत चार्ट पर आकर , आपको प्रवृत्ति को समझने में सक्षम होना चाहिए ? कभी-कभी , बाजार सकारात्मक या नकारात्मक होता है और कभी-कभी यह मिश्रित प्रतिक्रिया दिखाता है। लेकिन , महत्वपूर्ण बात यह है कि इसे समझने में सक्षम होना चाहिए और इसके अनुसार इसे अपनाना चाहिए।

एक बार जब आप चार्ट के चलन को समझ जाते हैं , तो गति को समझना महत्वपूर्ण है। प्रवृत्ति कैसे उलटने जा रही है या जहां यह रिवर्स करने जा रही है , गति की समझ के साथ इसका अनुमान लगाया जा सकता है। गति के साथ-साथ अस्थिरता और वॉल्यूम भी देखने के लिए महत्वपूर्ण पहलू हैं।

इंट्राडे चार्ट विश्लेषण के लिए संकेतक

1. मूविंग एवरेज

मूविंग एवरेज , जिसे लोकप्रिय रूप से एमए के रूप में जाना जाता है , किसी भी चार्ट पैटर्न को समझने के लिए सबसे पुराने और सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले संकेतकों में से हैं। यह समापन मूल्य का औसत है लेकिन चूंकि यह बढ़ रहा है इसलिए इसे एक अवधि के साथ निर्दिष्ट करना होगा। सबसे लोकप्रिय मूविंग एवरेज 50 दिन , 100 दिन और 200 दिन के लिए हैं।

2. मात्रा-भारित औसत मूल्य ( VWAP)

VWAP एक और सबसे महत्वपूर्ण और आसान संकेतक है जो औसत पर विचार करता है और चार्ट पैटर्न का पूर्वानुमान करता है। यह वॉल्यूम भारित औसत मूल्य के लिए है। इसलिए , यह एक औसत है जहां वॉल्यूम भी शामिल है क्योंकि ट्रेडों की मात्रा एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। VWAP ट्रेड किए गए स्टॉक के मूल्य और ट्रेड किए गए स्टॉक की मात्रा का अनुपात है।

3. डंकन चैनल

स्टॉक की अस्थिरता को समझना मूल्यांकन के महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है और डोनचैन चैनल इसे बहुत अच्छी तरह से करता है। चाहे अस्थिरता अधिक हो या कम , पूर्वानुमान सटीकता में वृद्धि होगी। डोनचैन चैनल का निर्माण उच्चतम ऊँचाई और निम्नतम चढ़ाव को लेकर किया गया है , जिससे यह एक ऐसी सीमा बन जाती है जहाँ बैंड कीमतों के साथ आगे बढ़ रहा है। बैंड की संकीर्णता और निर्जनता दर्शाती है आप 200 दिन मूविंग एवरेज की गणना कैसे करते हैं? कि अस्थिरता क्रमशः कम या अधिक है।

4. स्टोकेस्टिक संकेतक

जब चार्ट पैटर्न की बात आती है तो स्टोकेस्टिक लंबे समय से काफी लोकप्रिय और सटीक रहे हैं। वे गति का सटीक अनुमान लगाते हैं। स्टोचैस्टिक रूप से गणना करने के लिए एक सूत्र है:

%K = ( वर्तमान बंद - निम्नतम निम्न)/(उच्चतम उच्च - निम्नतम निम्न) * 100

%D = %K का 3- दिन का SMA

सबसे कम = लुकबैक अवधि के लिए सबसे कम

हाईएस्ट हाई = लुक-बैक पीरियड के लिए हाईएस्ट हाई

फिर विचलन और अभिसरण है जिसे प्रवृत्ति और गति को समझने के लिए देखा जाना चाहिए

5. रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स ( RSI)

RSI का मतलब रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स है जो एक मोमेंटम इंडिकेटर है। यह ओवरबॉट या ओवरसोल्ड स्थितियों का मूल्यांकन करने वाले स्टॉक की सापेक्ष शक्ति को इंगित करता है। यह 0 से 100 तक की रीडिंग के साथ एक ऑसिलेटर के रूप में प्रदर्शित होता है। 70 से ऊपर RSI का मान बताता है कि स्टॉक ओवरबॉट क्षेत्र में है और 30 से आप 200 दिन मूविंग एवरेज की गणना कैसे करते हैं? नीचे का मूल्य ओवरसोल्ड क्षेत्र को दर्शाता है। RSI लाइन का एक तरफ से दूसरी तरफ जाना रिवर्सल और पुलबैक का संकेत देता है।

6. मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस/डिवर्जेंस (एमएसीडी)

मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस एक अन्य तकनीकी संकेतक है जो गति की भविष्यवाणी करता है। यह स्टॉक के दो मूविंग एवरेज के बीच संबंध को दर्शाता है। एमएसीडी की गणना करने के लिए 26 दिनों की घातीय मूविंग एवरेज को 12 दिनों की एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज से घटाया जाता है। इस एमएसीडी लाइन की तुलना 9 डेज एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज से की जाती है जो एक क्रॉसओवर दिखाता है। ऊपर और नीचे से एक क्रॉसओवर क्रमशः बेचने या खरीदने का संकेत देता है।

रेटिंग: 4.32
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 706