डेली न्यूज़

हाल ही में भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (Securities & Exchange Board of India) ने मार्केट इंफ्रास्ट्रक्चर इंस्टीट्यूशन (Market Infrastructure Institution) से व्यापार सहित अन्य महत्त्वपूर्ण प्रणालियों में व्यवधान के 45 मिनट के भीतर उनका परिचालन शुरू करने को कहा है।

शेयर मार्केट में पहली बार इस स्टॉक एक्सचेंज कंपनी ने रचा इतिहास, शेयर निवेशकों की हुई चांदी

BSE Market Capitalization: कल गुरुवार को जो रेकॉर्ड भारतीय शेयर मार्केट ने तय किया वह भारत के इतिहास में पहली बार दर्ज होने वाला रेकॉर्ड है। बांम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड शेयरों का मार्केट कैपिटलाइजेशन अब तक के सबसे ऊंचे स्तर 282.66 लाख स्टॉक एक्सचेंज क्या है? करोड़ रुपये पर जा पहुंचा है। जिसके कारण शेयर निवेशको को काफी लाभ हो रहा है। मार्केट में लगातार तेजी के कारण निवेशकों की संपत्ति में 1.79 लाख करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है। 17 जून, 2022 को बीएसई ( BSE) में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैपिटलाईजेशन 235 लाख करोड़ रुपये के करीब था जो अब बढ़कर 282.66 लाख करोड़ रुपये हो गया है।

रिसर्च एनालिस्ट प्रशांत तापसे ने कहा
मेहता इक्विटीज लि. के रिसर्च एनालिस्ट प्रशांत तापसे ने कहा, बाजार में बृहस्पतिवार को अच्छी तेजी रही। इसका प्रमुख कारण वॉल स्ट्रीट में बुधवार को आई तेजी तथा कच्चे तेल के दाम में लगातार जारी गिरावट है। कच्चे तेल का दाम फरवरी के बाद लगातार अपने निचले स्तर पर ट्रेड कर रहा है। गुरुवार को निवेशकों की खरीदारी के चलते कारोबार खत्म होने पर मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स 659 अंकों की उछाल के साथ 59,688 तो नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 174 अंकों की तेजी के साथ 17,798 अंकों पर बंद हुआ है. सेंसेक्स 60,000 के लेवल तो निफ्टी 18,000 के लेवल को छूने के कगार पर है।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का भारत में इतिहास | History of stock exchange in India

स्टॉक एक्सचेंज क्या होता है? इसे जानने से पहले आपको स्टॉक एक्सचेंज की भारत में कैसे शुरुआत हुई? (History of stock exchange in India) इसके बारे में जानना चाहिए|
यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है| चाहे आप इसे पढ़ाई के संबंध में लें, चाहे आप इसे बिजनेस के संबंध में लें|

यह बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है| दरअसल भारतीय पूंजी बाजार की घटनायें बड़ी ही रोचक और दिलचस्प हैं|

यदि हम भारत के शेयर मार्केट की बात करें तो भारत के पूँजीकरण में इसका अतुल्य योगदान है|

भारत में स्टॉक एक्सचेंज का इतिहास (Stock exchange History in India)

इसका विचार 18वीं सदी के अंत में आया था| यह समय वह था जब पहली बार नेगोशिएबल सिक्योरिटी पहली बार जारी की गई थी|

एक बहुत पुराना कंपनी एक्ट था, जिसको कि शायद आज लोग जानते भी नहीं है (Company act 1850)|

यह वही समय था जब पहली बार लिमिटेड लायबिलिटी तथा इन्वेस्टर इंटरेस्ट की बात की गई थी|

सबसे पहले भारत में स्टॉक एक्सचेंज मुंबई में स्थापित हुआ था| मुंबई स्टॉक एक्सचेंज की अनौपचारिक शुरुआत 1834 में हुई थी|

मुंबई स्टॉक एक्सचेंज की औपचारिक शुरुआत 1875 में हुई थी|

उस समय पर मुंबई को “Bombay” बोलते थे|

तब इसका नाम था “The native share and stock brokers association”

वर्तमान समय में इसका नाम “Bombay stock exchange (BSE)” है|

यह भारत तथा एशिया का भी सबसे पुराना एक्सचेंज है| यदि दुनिया की बात करें तो यह तीसरा सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज है|

इसके बाद भारत के कुछ विकसित शहरों ने अपने यहां पर स्टॉक एक्सचेंज खोलें|

जैसे कि: अहमदाबाद में 1894 में, कोलकाता में 1908 में तथा मद्रास में 1937 में

1947 के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का इतिहास

स्टॉक मार्केट की बेहतर परफॉर्मेंस के लिए 1956 में “securities contract regulation act 1956” लाया गया|

1980 स्टॉक एक्सचेंज क्या है? के दशक में बहुत सारी फर्जी कंपनियों ने भी अपने आप को स्टॉक मार्केट में लिस्ट करवा लिया था|

इनका मुख्य उद्देश्य लोगों से पैसा लूटना था| इन्होंने किया भी ठीक वैसा ही| इसी के कारण लोगों का विश्वास स्टॉक मार्केट से हटने लगा|

स्टॉक मार्केट में लोगों का विश्वास पुनः जगाने के लिए सन 1987 में “investor protection fund” की शुरुआत की गई|

इसकी शुरुआत करने का मुख्य मकसद स्टॉक मार्केट में फंसे हुए लोगों को सुरक्षा देना था|

आर्थिक उदारीकरण के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का भारत में इतिहास

भारत में आर्थिक उदारीकरण की शुरुआत 24 जुलाई 1991 के बाद से हुई|

इसी कड़ी में 1992 में SEBI की शुरुआत की गई|

1996 में एक बहुत महत्वपूर्ण घटना घटी| इस दौर में एक अभूतपूर्व घटना घटी|

अब! भौतिक शेयर प्रमाण पत्र (physical share certificate) जगह पर इलेक्ट्रॉनिक रूप (E-form) में दिया जाने लगा| इसी समय पर depository act की शुरुआत भी की गई|

Depository act की शुरुआत होने के बाद NSDL (National Securities Depositories Ltd) पहली संस्था थी जिसे इस एक्ट के तहत पहला लाइसेंस मिला था|

CDSL (Central Securities Depositories Ltd) दूसरी ऐसी संस्था थी जिसने depository act के तहत रजिस्ट्रेशन करवाकर लाइसेंस स्टॉक एक्सचेंज क्या है? हासिल किया था|

साल 2001 में मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने अपना सारा कारोबार e-platform पर शिफ्ट कर दिया था|

इसके बाद ग्राहक अपने घर बैठे ही आसानी के साथ शेयर खरीद सकते हैं| इसके पीछे का मुख्य मकसद NSE के साथ प्रतिस्पर्धा में बने रहना था| NSE पहले से ही डिजिटल प्लेटफॉर्म पर काम कर रहा था| इस कारण से कभी-कभी वह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज से आगे निकल जाता था|

इसी को ध्यान में रखते हुए मुंबई स्टॉक एक्सचेंज मैंने अपने सारे कारोबार को e-platform पर शिफ्ट कर दिया|

सन 2001 में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज T+2 डिलीवरी टाइम पर शिफ्ट हो गया| T+2 का अर्थ: “जिस दिन ट्रेड किया गया है वह सारे ट्रेड 2 दिन के अंदर सेटल हो जाना|” इसका मुख्य कारण बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर सेटल हो जाना था|

2005 में भी शेयर मार्केट के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण घटना घटी| इस वर्ष BSE एक निगम इकाई (corporate entity) में बदल गया| इसकी पूरी कार्यप्रणाली एक कॉरपोरेट में बदल गई| इसका मुख्य मकसद अपने काम में पारदर्शिता लाना था|

2008 में Currency derivatives के भाग की शुरुआत की गई|

2014 में मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने एक बहुत ही अभूतपूर्व वित्तीय लक्ष्य को प्राप्त किया|

इस वर्ष में मुंबई स्टॉक एक्सचेंज की सारी कंपनियों को मिलाकर उनका market capitalization स्टॉक एक्सचेंज क्या है? 100 लाख करोड़ के आंकड़े को पार कर गया|

बीएसई की महत्वपूर्ण जानकारी (BSE important facts)

BSEमहत्वपूर्ण तथ्य
स्थानPhiroze Jeejeebhoy Towers, Dalal Street, Mumbai- 40000, भारत
स्थापित9 जुलाई 1877
लिस्टिंग की संख्या5400 से अधिक
सूचकांकबीएसई सेंसेक्स, एसएंडपी बीएसई मिडकैप, एसएंडपी बीएसई स्मॉलकैप, एसएंडपी बीएसई लार्जकैप, बीएसई 500
Phones91-22-22721233/4, 91-22-66545695 (Hunting)
Fax91-22-22721919
CINL67120MH2005PLC155188
Email[email protected]
Website www.bseindia.com
बीएसई की महत्वपूर्ण जानकारी (BSE important facts)

उम्मीद करता हूं, आपको यह पोस्ट “भारत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का इतिहास” पसंद आई होगी|

इसी तरह की नई पोस्ट में मैं फिर मिलूंगा तब तक के लिए मैं नवीन कुमार आपसे इजाजत चाहता हूं! नमस्कार

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

उम्मीद करता हूं, आपको यह पोस्ट “भारत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का इतिहास, (history of stock exchange in India)” पसंद आई होगी|
इसी तरह की नई पोस्ट में मैं फिर मिलूंगा तब तक के लिए मैं नवीन कुमार आपसे इजाजत चाहता हूं! नमस्कार
धन्यवाद

Indian Stock Exchange- भारत में कुल कितने स्टॉक एक्सचेंज है ?

आज हम जानेंगे Stock Exchange क्या होता है भारत में कौन सा स्टॉक एक्सचेंज कंपनी सबसे ज्यादा बड है और भारत में कुल कितने Stock Exchange कंपनी है यदि आपको स्टॉक मार्केट के बारे में नहीं पता उसके बारे में जानना चाहते हैं तो हमारी पिछली जानकारी को पढ़ सकते हैं जिसमें हमने स्टॉक मार्केट के बारे में बताया है।

Stock Exchange

स्टॉक एक्सचेंज क्या है What is Stock Exchange?

Stock Exchange एक प्लेटफार्म है जिसके द्वारा हम किसी कंपनी के शेयर स्कोर बाय ओर सेल करते हैं अगर किसी को किसी कंपनी के शेयर्स को बेचने हैं तो वह Stock Exchange में सेल ऑर्डर कर सकता है और अगर किसी को किसी कंपनी के शेयर को खरीदने हैं तो स्टॉक एक्सचेंज में बाय ऑर्डर कर सकता है।

भारत में कौन सा स्टॉक एक्सचेंज सबसे ज्यादा पॉपुलर है

भारत में सबसे ज्यादा पॉपुलर Stock Exchange कंपनी बीएससी यानी कि बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज कंपनी है और दूसरा भारत में पापुलर स्टॉक एक्सचेंज कंपनी का नाम है एनएससी इसे हम नेशनल स्टॉक एक्सचेंज कंपनी भी करते हैं

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange)

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज एशिया का सबसे पहला स्टॉक कंपनी है और भारत का सबसे बड़ा कंपनी है और पूरे देश में 10 सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है मुंबई स्टॉक एक्सचेंज मुंबई में में है जिस के एमडी और सीईओ आशीष कुमार चौहान है मुंबई स्टॉक एक्सचेंज में 5000 से ज्यादा कंपनियां लिस्टेड है जिसका मार्केट कैपिटल आई जेशन 2.1 मिलियन डॉलर से भी ज्यादा है।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange)

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज भारत का पहला स्टॉक एक्सचेंज कंपनी है जिसमें फुली ऑटोमेटिक बेस्ट इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रोवाइड किया यह वर्ल्ड का जरावा सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज कंपनी है नेशनल स्टॉक एक्सचेंज मुंबई में है जिसके स्टॉक एक्सचेंज क्या है? एमडी और सीईओ विक्रम अलीम आए हैं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में अट्ठारह सौ से ज्यादा कंपनियां लिस्टेड है नेशनल स्टॉक एक्सचेंज कंपनी का मार्केट केपीटलाइजेशन दशमलव 2 ट्रिलियन डॉलर से भी ज्यादा है।

इंडियन स्टॉक एक्सचेंज कंपनी की लिस्ट (Indian Stock Exchange)

इंडियन स्टॉक एक्सचेंज क्या है? स्टॉक एक्सचेंज कंपनियों को तीन भागों में बांटा गया है। जिसमें

1.Operating Stock exchange

ऑपरेटिंग स्टॉक एक्सचेंज में स्टॉक कंपनियां आती हैं।

    स्टॉक एक्सचेंज क्या है?
  1. BSE-Bombay Stock exchange
  2. Kolkata stock exchange
  3. India INX-India international exchange
  4. MSE-metropolitan Stock exchange
  5. NSE-National Stock exchange of India
  6. NSE IFSC Ltd-NSC international exchange

2.Operating Commodity exchange Company List

  1. ICEX-Indian commodity exchange
  2. MCX-multi commodity exchange of India Ltd
  3. NCDEX-National commodity and derivatives exchange Ltd

3.Formal Stock exchange

फॉर्मर स्टॉक एक्सचेंज नीचे दी गई कंपनियां बंद हो चुके हैं।

  1. Ahmedabad Stock exchange (Closed)
  2. Delhi स्टॉक एक्सचेंज क्या है? Stock exchange (Closed)
  3. Guwahati stock exchange (Closed)
  4. Jaipur stock exchange (Closed)
  5. Madhya Pradesh Stock exchange (Closed)
  6. Madras स्टॉक एक्सचेंज क्या है? Stock exchange (Closed)
  7. OTC exchange of India (Closed)
  8. Pune stock exchange (Closed)
  9. Up Stock exchange (Closed)
  10. स्टॉक एक्सचेंज क्या है?
  11. Vadodara Stock exchange (Closed)
  12. Bangalore stock exchange (Closed)
  13. Cochin Stock exchange (Closed)
  14. Inter-connected stock exchange (Closed)
  15. Ludhiana Stock exchange (Closed)
  16. Bhubaneswar Stock exchange (Closed)
  17. Coimbatore Stock exchange (Closed)
  18. Hyderabad Stock exchange (Closed)
  19. Magadh Stock exchange (Closed)

यह है सभी स्टॉक एक्सचेंज कंपनियों की लिस्ट मे से कुछ स्टॉक एक्सचेंज कंपनियां बंद हो चुकी हैं।

भारत में कुल कितने स्टॉक एक्सचेंज कंपनियां हैं

चलिए बात कर लेते हैं भारत में कुल कितने स्टॉक एक्सचेंज कंपनी है जहां पर शेयर्स की लेनदेन की जाती है। पहले तो भारत में बहुत सारे स्टॉक एक्सचेंज कंपनियां थी लेकिन इनमें से कुछ स्टॉक चेंज कंपनियां बंद हो चुके हैं जो अभी भी स्टॉक एक्सचेंज कंपनियां चल रही है उनके लिस्ट नीचे आप देख सकते हैं।

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में स्टॉक-एक्सचेंज के अर्थ देखिए

rd-app-promo-desktop rd-app-promo-mobile

English meaning of स्टॉक-एक्सचेंज , स्टॉक-एक्सचेंज meaning in english, स्टॉक-एक्सचेंज translation and definition in English. स्टॉक-एक्सचेंज का मतलब (मीनिंग) अंग्रेजी (इंग्लिश) में जाने | Khair meaning in hindi

Top Searched Words

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

today, present moment

सूचनार्थ : औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें [email protected] पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची : रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए ( स्टॉक-एक्सचेंज )

स्टॉक-एक्सचेंज

चित्र अपलोड कीजिए अधिक जानिए

चित्र संलग्न कीजिए

मैं रेख़्ता को अपने चित्रों को उपयोग करने के लिए अधिकृत करता/करती हूँ और उसके कॉपीराइट के लिए स्वयं उत्तरदायी हूँ।

और खोजिए

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

लोकप्रिय पोस्ट

Muhaavaron ki mantiq

Muhaavaron ki mantiq

Diwan: Rational Word with Irrational Meanings

Diwan: Rational Word with Irrational Meanings

Izafat: Making Sense of Knotty Grammar

Izafat: Making Sense of Knotty Grammar

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

AD रेख़्ता का उपक्रम

RekhtapermotedImg

उर्दू शब्दों का विशाल रंगमंच, जहाँ शब्द अपनी मधुर आवाज़ों, विभिन्न भाषाओं में अपने अर्थों और अपनी विविध विशेषताओं के साथ ज़िंदा और गतिशील नज़र आएँगे। तो चलिए रेख़्ता डिक्शनरी के साथ एक अद्‌भुत ज्ञान-यात्रा पर।

क्विक लिंक्स

हमारी वेबसाइट्स

हमारी सहायता कीजिए

मोबाइल ऐप डाउनलोड कीजिए

rd-android-app rd-ios-app

© 2022 Rekhta™ Foundation. All Right Reserved.

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Download Mobile app

rd-android-app rd-ios-app

Rekhta

Urdu poetry, urdu shayari, shayari in urdu, poetry in urdu

AAMOZISH

The best way to learn Urdu online

Hindwi

World of Hindi language and literature

Sufinama

Online Treasure of Sufi and Sant Poetry

Saved Words No saved words yet

रेख़्ता डिक्शनरी का सहयोग कीजिए| उर्दू को बढ़ावा देने के लिए सहयोग कीजिए

रेख़्ता डिक्शनरी उर्दू भाषा के संरक्षण और प्रसार के लिए रेख़्ता फ़ाउंडेशन की एक महत्त्वपूर्ण पहल है। रेख़्ता डिक्शनरी की टीम इस डिक्शनरी के उपयोग को और सरल एवं अर्थपूर्ण बनाने के लिए निरंतर प्रयत्नरत है। कृपया रेख़्ता डिक्शनरी को संसार का सर्वश्रेष्ठ त्रिभाषी शब्दकोश बनाने के लिए हमें सहयोग कीजिए। दानकर्ता द्वारा दी गई योगदान-राशि भारतीय अधिनियम की धारा 80G के तहत कर-छूट के अधीन होगी।

रेटिंग: 4.77
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 123