-ऑनलाइन एप्‍लीकेशन के मामले में ग्राहक को करेंसी कलेक्‍ट करने के लिए ब्रांच में जाना होगा. हालांकि, फॉरेक्‍स कार्ड आवेदक के पते पर भेज दिया जाता है.

CPI Inflation November 2022 Comed down to 5.88 percent

इनकम टैक्स रिटर्न भरना होगा अब और आसान, सहूलियत के लिए जारी हुआ नया 26AS फॉर्म

By: एबीपी न्यूज़ | Updated at : 29 Jul 2020 12:14 PM (IST)

इनकम टैक्स रिटर्न भरने वाले टैक्सपेयर्स की सहूलियत के लिए आयकर विभाग ने नया 26AS फॉर्म जारी किया है. इससे आयकर रिटर्न भरना और आसान हो जाएगा. आयकर विभाग के ट्वीट में कहा गया है कि इस नए फॉर्म से आईटीआर फाइल करने में काफी मदद मिलेगी.

क्या है 26 AS फॉर्म

यह एक सालाना टैक्स स्टेटमेंट होता है. इस फॉर्म मेंआपकी ओर से दिए गए टैक्स और किसी भी संस्था की ओर से काटे गए टैक्स की सारी जानकारी दर्ज होती है. आईटीआर फाइलिंग के वक्त इसकी जरूरत पड़ती है. पैन नंबर की मदद से आप यह फॉर्म इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की वेबसाइट से निकाल सकते हैं.

नए 26AS फॉर्म में क्या है?

News Reels

सहूलियत एफएक्स रेफरल कोड $ 100 के लिए साइनअप पर पेश किया जाता है - मेरे प्रोमो कोड के साथ सहूलियत एफएक्स पर पैसे बचाएं

समुदाय के साथ अपने कोड साझा करने के लिए एक खाता बनाएं

प्रोमो कोड कैसे काम करता है?

Vantage FX रेफ़रल प्रोग्राम के बारे में और सहूलियत FX क्या है जानें

Vantage FX आमंत्रण कार्यक्रम के बारे में वह सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं

Vantage FX प्रोमो कोड आपको $100 ऑफ़र करता है। इसके सहूलियत FX क्या है बाद, आप अपने दोस्तों को Vantage FX में शामिल होने के लिए आमंत्रित कर सकते हैं और प्रत्येक सफल रेफ़रल के लिए $150 अर्जित कर सकते हैं जब वे आपके Vantage FX प्रोमो कोड का उपयोग करते हैं।

Vantage FX रेफ़रल कोड गॉडसन को $100 और गॉडफ़ादर को $150 देता है, जब भी कोई गॉडसन कोड का उपयोग करता है। प्रचार को सक्रिय करने के लिए, या तो रेफ़रल लिंक पर क्लिक करें या Vantage FX में साइन अप करते समय Vantage FX प्रोमो कोड को कॉपी और पेस्ट करें।

Forex रिजर्व में दो साल की बड़ी गिरावट, जानिए क्‍या है इसका कारण

डॉलर के मुकाबले रुपया काफी कमजोर हो गया है। (Pti)

देश का विदेशी मुद्रा भंडार दो साल के निचले स्‍तर पर सहूलियत FX क्या है चला गया है। 20 मार्च 2020 को समाप्त हफ्ते के दौरान रिजर्व में 11.98 सहूलियत FX क्या है बिलियन डॉलर की गिरावट दर्ज की गई। Covid महामारी के दौरान विदेशी निवेशकों ने बड़ी रकम निकाल ली है।

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। देश का विदेशी मुद्रा भंडार दो साल के निचले स्‍तर पर है। 11 मार्च, 2022 को समाप्त सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 9.64 बिलियन डॉलर गिरकर 622.275 बिलियन डॉलर हो गया। इसका कारण यह रहा कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) की बिकवाली के कारण कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में तेज गिरावट आई। इसके बाद 20 मार्च, 2020 को समाप्त सप्ताह के दौरान Forex में 11.98 बिलियन डॉलर की गिरावट दर्ज की गई। यह लगभग दो साल में सबसे बड़ी गिरावट है, जब कोविड -19 महामारी के दौरान FPI ने अपना पैसा निकाल लिया।

फॉरेन ट्रैवल के लिए विदेशी मुद्रा खरीदने का क्‍या तरीका है?

photo3

कितनी करेंसी खरीद सकते हैं आप?
आरबीआई ने विदेशी करेंसी सहूलियत FX क्या है की खरीद को लेकर सीमा तय कर रखी है. नोटों और सिक्कों के रूप में विदेशी मुद्रा की खरीद पर प्रति विजिट 3,000 डॉलर की ऊपरी सीमा है. फॉरेक्‍स कार्ड के रूप में अधिकतम 10,000 डॉलर के बराबर खरीद की जा सकती है. किसी भारतीय नागरिक के लिए लिबरलाइज्ड रेमिटेंस स्कीम के तहत इसकी कुल सीमा 2,50,000 डॉलर प्रति वित्तीय वर्ष है.

कैसे करना पड़ता है आवदेन?
विदेशी मुद्रा के लिए बैंकों में एक अलग फॉर्म हो सकता है. आरबीआई ने इसके लिए फॉर्म ए2 और एलआरएस डेक्‍लेरेशन को निर्धारित किया सहूलियत FX क्या है है. इन्‍हें आवेदन के समय भरकर जमा करने की जरूरत होती है.

आरबीआई के लोन री-स्ट्रक्चरिंग का आम लोन कस्टमर पर क्या होगा असर? यहां समझिए

By: एबीपी न्यूज़ | Updated at : सहूलियत FX क्या है 08 Aug 2020 10:46 AM (IST)

आरबीआई ने दो दिन पहले मौद्रिक नीति समीक्षा में उद्योगों के साथ ही आम बैंक कस्टमर्स की सहूलियत FX क्या है ओर से लिए गए लोन की री-स्ट्रक्चरिंग का ऐलान किया था. आम लोगों के जिन कर्जों की री-स्ट्रक्चरिंग होगी उनमें गोल्ड लोन, एजुकेशन लोन, होम लोन,पर्सनल लोन, कंज्यूमर ड्यूरेबल लोन, कार लोन शामिल हैं. इसमें बिजनेस या कारोबारी मकसद से लिए गए लोन शामिल नहीं हैं.

रिजर्व बैंक ने कहा है कि जो लोग मार्च, 2020 से अपने कर्जों का लगातार भुगतान सहूलियत FX क्या है करते आ रहे हैं उन्हें री-स्ट्रक्चरिंग का विकल्प दिया जा सकता है. यह विकल्प बैंकों की ओर बनाए गए फ्रेमवर्क के तहत दिया जाएगा, जो 31 दिसंबर तक तैयार हो जाएगा. इसे 90 दिनों के भीतर लागू करना होगा.आखिर लोन री-स्ट्रक्चरिंग है क्या और इसका कर्ज लेने वालों को क्या फायदा होगा? आइए समझते हैं.

रेटिंग: 4.31
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 718