This Book is very useful for Indian stock market investors who are beginners.all useful information including strategies will help new investors to great extent.

चार्ट के प्रकार (हिंदी) clip_image004_thumb education

शेयर मार्केट की ABCD : Hindi Stock Market Guide

यह कोर्स उन के लिए है जो की बाजार के लिए नए हैं और सिक्योरिटीज मार्किट में अपना सिक्का जमाना चाहते है| यह कोर्स व्यापारियों, निवेशकों, छात्रों या ट्रेडिंग / व्यापार में किसी भी तरह की रुचि रखने वालो के लिए भी है |

शेयर बाजार या शेयर मार्किट में पैसा बनाना बहुत आसान है उसी प्रकार शेयर बाजार शेयर मार्केट चार्ट के प्रकार में पैसा खोना भी बहुत आसान है। इससे बचा जा सकता है अगर शेयर मार्केट चार्ट के प्रकार आप स्वंय शेयर बाजार के बारे में अधिक से अधिक जानकारी एकत्र करें,शोध करें और दूसरों के दिये टिप्स पर न जायें। शेयर बाजार एक खतरनाक खेल है, इसमें कूदने से पहले इसके बारे में अधिक से अधिक जानकारी ले लेना बहुत आवश्यक है। मगर इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि शेयर मार्किट में निवेश करने के लिए कोई अलग तरह की प्रतिभा या योग्यता ही चाहिए. कोई भी कोशिश करके शेयर बाजार की जानकारी ले सकता है। हिंदी में शेयर मार्किट की जानकारी मिलना कठिन होता है. शेयर मार्किट की जानकारी केवल कुछ लोगों तक ही सिमित है। यहां आपको शेयर बाजार के तकनीकी पहलुओं से हिंदी में अवगत करने की कोशिश है।मैने यहाँपर एक जनरल इन्वेस्टर के लिये आवश्यक सभी पहलूओंपर अपनी ओरसे जितना हो सके उतना विस्तारसे लिखने शेयर मार्केट चार्ट के प्रकार की कोशिश की है। भारत दुनियाके बेहतरीन विकासशील अर्थव्यवस्था के रूपमें तेजीसे उभरता हुआ देश है,औरआनेवाले समयमें चीन को भी पछाडकर शीर्षपर पहुचनें की क्षमता रखता हें। इसीलिये निवेषकोंको चाहीये की इस बातका ज्यादासे ज्यादा फायदा उठाने की कोशीष् करे।

अच्छा शेयर कैसे चुनें? अच्छा शेयर चुननें के तीन आसान तरीके जानिए।

पिछले दिनों मैंने एक लेख लिखा था जिसका विषय था स्टॉक मार्केट में सफल निवेशक कैसे बने। इसमें मैंने बताया था कि हमें हमेशा अच्छा शेयर खरीदना चाहिए। अच्छे शेयर की पहचान के लिए हमें उस कंपनी का Balance Sheet एवं Profit & Loss A/c को अच्छी तरह देखना चाहिए।

कई दोस्तों ने कमेंट किया है कि हमारे पास इतना नॉलेज नहीं है कि हम कंपनी का Balance Sheet एवं Profit & Loss A/c समझ सकें और पढ़ना भी चाहे तो नहीं पढ़ सकते हैं। कुछ shortcut तरीका बताएं जिससे पता लगे किस कंपनी का stock अच्छा है जिसे हम खरीद कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

एक अच्छा शेयर का चुनाव करने से पहले हमें अपने आप से एक बात पूछना होगा कि हम शेयर को खरीद कर कितने दिनों तक रख सकते हैं। यानी हम लंबे समय के लिए शेयर खरीद रहे हैं या फिर एक-दो घंटे के लिए।

Intraday trading के लिए अच्छी शेयर की पहचान

यदि आप Intraday trading के लिए शेयर खरीदना शेयर मार्केट चार्ट के प्रकार चाहते हो उसके लिए आपको कंपनी के बारे में विशेष जानने का कोई आवश्यकता नहीं है। आपको जिस दिन शेयर खरीदना है उस दिन मार्केट के शुरुआती 1 घंटे में शेयर की चाल को देखना है। यदि यह लगातार बढ़ रहा है तो आप उसे खरीद ले। 1- 2 घंटे बाद 2- 4% जो भी लाभ-हानि हुआ उसे बेचते हैं।

जैसे एक उदाहरण द्वारा इसे समझते हैं यदि हमें किसी व्यक्ति के साथ एक-दो घंटे गुजारना है तो हम उसके बारे में विशेष जानकारी नहीं रखना चाहते हैं जैसे उसका स्वभाव कैसा है? किस खानदान से जुड़ा हुआ है? आदि-आदि। हमें 1- 2 घंटे निकाल कर अलग हो जाना है। ठीक उसी प्रकार Intraday trading में हमें उस शेयर को लेना है और बेचना है।

कई कंपनी जो दिवालिया होने के कगार पर रहते हैं लेकिन Intraday trading में 10% से ज्यादा मुनाफा दे देते हैं। क्योंकि कोई पॉजिटिव न्यूज़ उसके शेयर को उछाल देता है। उस समय यह बात का कोई मतलब नहीं कि वह कंपनी दिवालिया होने वाली है या कुछ और।

लंबी अवधि के लिए एक अच्छी शेयर का चुनाव कैसे करें?

यदि आप किसी शेयर को 1 साल या इससे अधिक समय तक खरीद कर रखना चाहते हैं तो इसकी पहचान के लिए कई तरीके हैं। यदि आप के पास कंपनी का Fundamental, Value, Growth, Balance Sheet, Profit and Loss Account, Company Management, Dividend Policy, P/E Ratio इत्यादि जानने का समय है एवं यह सब जानने में रुचि रखते हैं तो इसे जानकर आप कंपनी के बारे में अच्छी जानकारी ले सकते हो और पता लगा सकते हो कि शेयर अच्छा है या खराब है।

लेकिन अगर आप उपरोक्त जानकारी हासिल करने में Interested नहीं हो और कुछ Shortcut अपनाना चाहते हो जिससे पता लगे कौन सा शेयर अच्छा है। इस पहचानने के लिए मैं आपको कुछ अलग तरीका बताऊंगा जो कहीं भी आपको नहीं मिलेगा।

मैं आपको एक अच्छे शेयर चुनाव करने के लिए कुल 3 तरीके बता रहा हूं जो बिल्कुल सरल एवं practical है। चाहे आप financial background से हो या ना हो अच्छे Share का चयन जरुर कर सकते है।

अच्छा शेयर चुननें के 3 तरीके निम्नलिखित है-

1. Mutual Fund Portfolio देखकर

आपको केवल यह करना है कि आप जो भी शेयर लेना चाहते हैं या अभी तक कोई आपने विचार नहीं किया है कौन सा शेयर लेें तो आप तो Top 5 Mutual Fund को Google में सर्च कर ले।

प्रत्येक Mutual Fund में 70 से 80 कंपनी का शेयर शामिल रहता है। आप ऊपर के 10 शेयर को एक नोटबुक में लिखें। इसी प्रकार पांचों Mutual Fund के 10-10 शेयर को नोटबुक में लिख ले।

आप पांचों Mutual Fund से लिखे गए 10-10 शेयरों को आपस में चेक करें शेयर मार्केट चार्ट के प्रकार कि कौन सा ऐसा कंपनी का शेयर है जो पांचों Mutual Fund या 4 में शामिल है। जो अधिकतर Mutual Fund पोर्टफोलियो में शामिल है वही एक अच्छा शेयर है।

दोस्तों एक Mutual Fund मैनेजर के अंदर कई मार्केट विशेषज्ञ काम करते हैं। वह सभी अच्छी तरह कंपनी के हर एक पहलू को गौर कर उसे अपने Mutual Fund में शामिल करता है।

चार्ट के प्रकार (हिंदी)

चार्ट के प्रकार (हिंदी) clip_image002_thumb education

चार्ट कीमतों को निर्घारित समय सीमा के तहत प्रदर्शित करते है | चार्ट्स मिनटों से लेकर सालो की समय सीमा तक रेखांकित किये जा सकते हैं |
चार्टो के कहीं प्रकार हैं, और साधारणत कीमते y-एक्सिस (खड़ी रेखा) पर रची जाती हैं और समय x-एक्सिस (समांतर रेखा ) पर दिखाया जाता है | तकनीकी संकेतो को कीमत चार्ट के निचे दिखाया जाता हैं |
समयावधि के आधार पर चार्ट समान्यत: ५ मिनिट , १० मिनिट , १५ मिनिट, आधा घंटा , १ घंटा , ४ घंटे , दिवसीय, साप्ताहिक और मासिक इस प्रकार के होते हैं |
सामान्य रूप से, दिवसीय और इंट्रा डे चार्टो का उपयोग छोटी अवधि के मूल्य गति जाचने के लिए होता हैं, बल्कि दीर्घकालिक मूल्याकन के लिए साप्ताहिक व मासिक चार्टो का प्रयोग किया जाता हैं | ५ और १० मिनिट के चार्ट मार्केट स्कैल्पर उपयोग में लाते है , १५ मिनिट के चार्ट डे ट्रेडर और छोटी अवधि के महत्वपूर्ण होते हैं | साप्ताहिक व मासिक चार्ट्स स्विंग ट्रेडर्स और निवेशको के काम आते हैं |
कीमत रचने की शैली के आधार पर चार्टो को लाइन चार्ट, बार चार्ट, कैंडलस्टिक चार्ट और पॉइंट व फिगर चार्ट प्रकार में वर्गीकृत किया जाता हैं | ये मुख्य चार्ट प्रकार है, इसके बावजूत और भी चार्टो के कीमत रेखांकन आधार पर कई प्रकार होते है पर वह कदाचित इस्तेमाल होते है और वो भी विशेषज्ञ ही इस्तेमाल व उपयोग करते हैं | उदारणार्थ रेनको चार्ट, हेइकिन-अशी चार्ट, एकवि-वॉल्यूम चार्ट , कैंडल-वॉल्यूम चार्ट, कागी चार्ट , थ्री लाइन ब्रेक चार्ट, इत्यादी.

कैंडलस्टिक चार्ट की जानकारी – भाग 10, Evening Star Pattern

आज हम कैंडलस्टिक के इवनिंग स्टार पैटर्न (Evening Star pattern) के बारे में सीखेंगे. ऊपर दो चार्ट दिये गए है. इन दोनों प्रकार के चार्ट में बने हुए कैंडलस्टिक पैटर्न, Evening Star pattern कहलाते है. यह कैंडलस्टिक पैटर्न आमतौर पर तब बनता है जब कोई स्टॉक या शेयर काफी दिनों से ऊपर चढ़ रहा हो और उसके अब और ज्यादा भाव बढ़ने की गुंजाईश नहीं हो. यह Evening Star पैटर्न आमतौर पर किसी शेयर के भाव का नीचे की ओर जाने या यूँ कहा जाया की भविष्य में गिरने का अंदाजा देता है. Evening Star पैटर्न में तीन दिनों की कैंडल् होती है, जिनकी जानकारी इस प्रकार है:-

1) पहले दिन की कैंडल (01-07-2017) हरी होती है और काफी बड़ी होती है.

रेटिंग: 4.41
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 752