बस कुछ दिनों में फिर सोने-चांदी में आएगी तेजी

सोने, चांदी की कीमत में तेजी से गिरावट का कारण अर्थशास्त्री भले ही वायदा कारोबार और साईप्रस द्वारा काफी मात्रा में जमा सोना बाजार में उतारने की बात कह रहे क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? है क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? लेकिन असलियत कुछ और है। ज्योतिषशास्त्री और स्टॉक गुरू जयगोविंद शास्त्री कहते हैं कि यह घटना ऐसे समय में ही क्यों हुई जब बुध कुंभ से अपनी नीच राशि मीन में पहुचे।

वास्तव में बाजार का इस तरह लुढ़कने का कारण कुछ और नहीं बुध की यह स्थिति है। ज्योतिष का नियम है कि जब बुध अपनी नीच राशि मीन में होते हैं तब अर्थव्यवस्था में गिरावट एवं आर्थिक अपराध की घटनाओं में वृ्द्धि होती है। बुध कालपुरुष की बुद्धि हैं इसलिए जब ये नीच राशिगत होते हैं तो अपने से संबंधित क्षेत्र जैसे बैंक, बीमा एवं कमोडिटी बाज़ार के निवेशकों को विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है।

बुध के मीन राशि में होने के कारण ही पश्चिम बंगाल क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? में क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? हुआ आर्थिक घोटाला सामने आया! ऐसे अवसरों का पहले भी कई लोगों ने दुरूपयोग किया है जैसे हर्षद मेहता, अब्दुकरीम तेलगी जिनके कारण हज़ारों निवेशकों को अर्श से फर्श पर आना पड़ा है और कई निवेशक तो इसी नुकसान के कारण आत्महत्या भी कर चुके हैं!

लेकिन अब ये स्थिति समाप्त होने वाली है क्योंकि आज शाम बुध क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? मीन से निकलकर मेष राशि में पहुंच रहा है। जहां पर यह सूर्य, मंगल, शुक्र, और केतु के साथ इनका मेल होगा। इसी मेल के परिणामस्वरूप सोने-चांदी में हो रही भारी गिरावट थमेगी साथ ही 4 मई की मध्यरात्रि क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? में शुक्र अपने घर वृष राशि में आ जाएंगे।

जिससे खरीदारी में भारी वृद्धि होगी। शुक्र की दशा-दिशा भी कमोडिटी बाज़ार को खासा प्रभावित करती है इसलिए इनका मंगल-सूर्य के चंगुल से मुक्त होकर अपने घर में पहुचना निवेशकों और स्टॉक मार्केट के लिए उम्मीद की किरण जगाएगा। निवेशकों के लिए सलाह है कि अबतक आपने धैर्य रखा है तो कुछ दिन और धैर्य बनाए रखिए। अप्रैल माह के अंत के साथ बाज़ार में गिरावट का अंत हो सकता है। बुध का मेष राशि में और शुक्र का वृष में पहुंचना आमजनता के लिए शुभ फलदायी रहेगा।

'भारी बारिश की संभावना'

दिल्ली में आज सुबह वायु गुणवत्ता 'बेहद खराब' श्रेणी में दर्ज की गई. राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 309 पर है.

आईएमडी के मुताबिक, चक्रवात के सोमवार को प्रचंड चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है, जिसमें हवा की गति 90 से 100 किमी प्रति घंटे से 110 किमी प्रति घंटे तक पहुंच जाएगी. आईएमडी ने कहा कि पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश और उत्तरी तटीय ओडिशा में भारी बारिश होने की संभावना है.

India | Reported by: प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया, Translated by: विजय शंकर पांडेय |गुरुवार अक्टूबर 20, 2022 02:28 PM IST

आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि इसके उत्तर की ओर फिर से मुड़ने और 24 अक्टूबर तक पश्चिम-मध्य और इससे सटे पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती तूफान में तेज होने की संभावना है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार सुबह कहा, "आम तौर पर अगले 24 घंटों में शहर और उपनगरों में मध्यम से भारी बारिश (Heavy rain) होने व बादल गरजने की संभावना है".

उन्होंने कहा कि नेपाल के देवघाट में बहुत बारिश हुई है. अगले दो दिन भी भारी बारिश की संभावना जताई गई है. हमने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी अपडेट दिया है. संभावना है वो खुद भी जाकर इलाकों का जायजा लेंगे.

दिल्ली में 21 सितंबर से 24 सितंबर तक हुई लगातार बारिश ने राजधानी को पिछले डेढ़ महीने में भारी बारिश की कमी को पूरा करने में मदद की.

जबलपुर, भोपाल और नर्मदापुरम संभाग में अगले 24 घंटों में भारी बारिश की संभावना को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया गया है. भारी बारिश के चलते नर्मदापुरम और भोपाल के स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कई जिलों में अगले दो दिनों में भारी बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग (IMD ) ने शनिवार को यह जानकारी दी.

India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र, Edited by: श्रावणी शैलजा |शनिवार अगस्त 13, 2022 02:35 PM IST

मौसम विभाग की मानें तो 13 और 14 तारीख को तटीय आंध्र प्रदेश और यनम में अलग-अलग जगह बारिश हो सकती है. वहीं, 14 को पंजाब और उत्तर प्रदेश में भारी बारिश और गरज के साथ बिजली गिरने की संभावना है.

India Weather Report Today: मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 30 और 31 तारीख को बिहार में छिटपुट से बहुत भारी वर्षा की भी संभावना है. दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और केरल और माहे 02 और 3 अगस्त को और तमिलनाडु में 31 जुलाई-03 अगस्त 2022 के दौरान बारिश हो सकती है.

गेहूं का भाव होगा तेज,100 रुपए बढ़ेंगे

15 दिन बाद गेहूं में तेजी आने लगेगी करीब 100 रुपए की भाव वृिद्ध गल्ला व्यापार में मानी जा रही है। मिल में भाव 100 रुपए नीचे चल रहे। मंिडयों में सोयाबीन की नई आवक आने के बाद गेहूं की आवक जीरो रहेगी। नवराित्र से बिनाट गेहूं मिल क्वािलटी में भाव वृिद्ध के साथ भीड़ भरी ग्राहकी आएगी। गल्ला व्यापार में ग्राहकी अभाव ही भाव वृिद्ध रोक देता है। उज्जैन मंडी में गेहूं के बड़े कारोबारी तो हजारों बोरी का स्टॉक लेकर तेजी मंदी से बेखबर भी रहते हैं। इन दिनों व्यापार के लिए जीरो रहते आए हैं। अन्य सूत्र तो इस बार गेहूं के व्यापार में बड़ा बदलाव बताते हुए भाव वृिद्ध से इंकार करते हुए त्योहारी ग्राहकी चलने की उम्मीद कर रहे हैं। 1840 रुपए का मिल क्वािलटी गेहूं 1740 रुपए बिकने लगा।

गेहूं का बड़ा व्यापार मीिडयेटरों के पास जाने से एफसीआई का खरीदा गेहूं भी नहीं बिक पा रहा। 25 रुपए लाभ के लिए लगाया धन अब 50 रुपए का नुकसान भी दे रहा है। बिनाट वालों के अच्छे दिन जल्दी आने की खबर है। गुजरात वाले अपने अलावा अन्य राज्य के लिए भी टॉप क्वािलटी का गेहूं खरीदकर व्यापार बढ़ाने वाले हैं। ग्रेडिंग बीज का व्यापार करने वाले तो लगातार गुजरात लाइन पर माल बेचने के लिए संपर्क में बताए जाते हैं। मंिडयों में 1650 से 1725-1730 रुपए के भाव चल रहे हैं।

ये कैसा गेहूं : खराब क्वािलटी का मिट्‌टी युक्त डंकी आटा युक्त गेहूं खरीदने वाले को लाभ ही लाभ मिल रहा है। मंडी का टेक्स भी इसमें फायदा दे देता है। मिल क्वािलटी गेहूं की पाठशाला में बनाया गया माल लाभ दे रहा है। 6-8 माह पूर्व जांच में गेहूं बाहर का पाया गया था।

खेरची आवक कम रही : कृिष उपज मंडी में खेरची आवक कमजोर रही। पुराना सोयाबीन ही किसान बेचने आए। चने के व्यापारी टू व्यापारी सौदे हो गए और फैल होने की खबर भी है। मंडी में शनिवार को भी सोयाबीन की गाड़ी लोड की गई।

गैर कृिष व्यापार फुल रहा : मंडी में लगी गैर कृिष व्यापार की दुकानों पर किसानों की भीड़ लगी हुई है। पंप, मोटर, खाद-बीज की जमकर खरीदी हो रही है। मंडी शनिवार को बंद होने के बाद भी भरी पूरी रही। गैर कृिष व्यापार क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? से मंडी को किसी प्रकार का टेक्स नहीं मिलता है।

सोयाबीन की कटाई शुरू, मूंग, उड़द, मक्का भी आएगी : नई सोयाबीन की कटाई शुरू हो गई। 9560 सोयाबीन पक गई है। अगले सोमवार से नया सोयाबीन मंडी में बिकने की संभावना है। मक्का पक गई लेकिन भुट्‌टे में समाप्त हो गई। मूंगफली, उड़द, मूंग, दलहनी उपज पक गई। शीघ्र ही नई उपज मंिडयों में पहुंचने लगेगी।

उज्जैन लोहा बाजार : टेस्टेड सरिया 3400 रुपए। प्रति िक्वंटल। खली के भाव : उज्जैन खली 1750 से 1800, कपास्या 2300 से 2550 रुपए। खली खामगांव 3000 से 3200 रुपए। आगर| गेहूं 1640 से 1800, मक्का 1410, सोयाबीन 3000 से 3250, चना कांटा 5725, चना विशाल 5500, चना डालर 5500 से 9400, धनिया 6300, मसूर 5650, मैथी दाना 3300 रुपए। खाचरौद| गेहूं 1796 से 1810 रुपए। महिदपुर| सोयाबीन 3230, गेहूं 1700 से 1860 रुपए के भाव रहे।

Adani की एंट्री से शेयर बना रॉकेट, 5 दिन से लग रहा है अपर सर्किट, अंबानी भी रेस में

Future Retail के लिए EOI जमा करने की समय-सीमा 20 अक्टूबर थी, लेकिन इसे आगे बढ़ा दिया गया था. अब EOI जमा करने वाली कंपनियों की फाइनल लिस्ट 20 नवंबर को जारी की जाएगी. इसके बाद उन्हें 15 दिसंबर तक एक समाधान योजना पेश करने के लिए कहा जाएगा.

फ्यूचर रिटेल लिमिटेड के शेयरों में तेजी का दौर जारी

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 14 नवंबर 2022,
  • (अपडेटेड 14 नवंबर 2022, 1:03 PM IST)

दुनिया के तीसरे सबसे अमीर और एशिया के नंबर-1 रईस गौतम अडानी (Gautam Adani) का नाम जुड़ते ही एक कंपनी का शेयर रॉकेट की रफ्तार से भागने लगा. हम बात कर रहे हैं फ्यूचर रिटेल लिमिटेड (FRL) के स्टॉक की. बिग बाजार (Big Bazar) वाली कंपनी Future Retail के अधिग्रहण के लिए पहले सिर्फ रिलायंस चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) आगे थे, लेकिन बीते दिनों गौतम अडानी भी उन्हें टक्कर देने के लिए इस रेस में शामिल हो गए हैं. इसके बाद से ही शेयरों में तेजी का दौर जारी है.

कर्ज में डूबी कंपनी को खरीदने की होड़
Big Bazar वाली फ्यूचर रिटेल पर अलग-अलग क्रेडिटर्स का भारी-भरकम बकाया है. कर्ज में डूबी इस कंपनी के अधिग्रहण को लेकर देश के दोनों सबसे रईस मुकेश अंबानी और गौतम अडानी आमने-सामने आ गए हैं. दोनों ने ही इसे खरीदने के लिए अपने पेपर भी जमा कर रखे हैं. हालांकि, इस कंपनी को अपने पोर्टफोलियो में शामिल करने की रेस में सिर्फ अडानी-अंबानी ही नहीं, बल्कि अप्रैल मून रिटेल प्राइवेट लिमिटेड समेत कुल 13 अन्य कंपनियां भी मैदान में हैं, जिन्होंने एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EOI) दाखिल किए हैं.

FRL Stocks में 4.29% की तेजी
बात करें Gautam Adani की जोरदार एंट्री की, तो इसका सीधा असर कंपनी के शेयरों पर दिखाई दे रहा है. Future Retail के स्टॉक्स में लगातार अपर सर्किट लग रहा है. आज सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को भी कंपनी के शेयर तेजी से भाग रहे हैं. खबर लिखे जाने तक दोपहर 12 बजे तक के कारोबार के दौरान एफआरएल (FRL) के शेयर 4.29 फीसदी की तेजी लेते हुए 3.65 रुपये के स्तर पर ट्रेड कर रहे थे. इससे पहले शेयर बाजार ओपन होते ही कंपनी के शेयर 3.65 फीसदी की बढ़त क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? के साथ खुले थे.

सम्बंधित ख़बरें

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, Fitment Factor पर आया बड़ा अपडेट
LIC के शेयरों में जोरदार तेजी, दूसरी तिमाही में कंपनी की बंपर कमाई
दिल्ली-NCR में भूकंप के झटके, नोएडा में हाइराइज बिल्डिंगों पर अथॉरिटी का बड़ा फैसला
मुकेश अंबानी करने जा रहे ये बड़ी डील, इंग्लैंड में बजेगा भारत का डंका!
3 रुपये से सस्ते शेयर ने बरसाए पैसे, अब 2119 रुपये का हो गया स्टॉक

सम्बंधित ख़बरें

बाजार टूटा, पर फ्यूचर के शेयर बने रॉकेट
सोमवार को शेयर बाजार (Stock Market) की शुरुआत मामूली बढ़त के साथ हुई थी, लेकिन जैसे-जैसे कारोबार आगे बढ़ा ये तेजी गिरावट में तब्दील होती गई. सेंसेक्स 5.94 अंक या 0.01 फीसदी ऊपर 61,800 पर खुला और निफ्टी 12.60 अंक या 0.07 फीसदी ऊपर 18,362 पर खुला था. इस दौरान लगभग 1369 शेयरों में तेजी आई 947 शेयरों में गिरावट आई और 149 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ था. दोपहर 12 बजे तक बीएसई का Sensex 170.13 अंक या 0.28 फीसदी की गिरावट के साथ 61,624.91 पर, जबकि एनएसई का Nifty 18.30 अंक या 0.10 फीसदी टूटकर 18,331.40 के लेबर पर आ गया था. भले ही शेयर बाजार में गिरावट आई हो, लेकिन फ्यूचर रिटेल के शेयर (FRL Stock) रॉकेट की रफ्तार से भाग क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? रहे हैं.

फ्यूचर ग्रुप पर कर्जदारों का इतना बकाया
फ्यूचर ग्रुप (Future Group) कभी देश का दूसरा सबसे बड़ा रिटेलर था. आज भी सुपर मार्केट का नाम आते ही सबसे पहले बिग बाजार (Big Bazar) जुबान पर आ जाता क्या बाहरी दिन तेजी या मंदी का दिन है? है. लेकिन इसकी मूल कंपनी किशोर बियाणी के नेतृत्व वाली फ्यूचर रिटेल (Future Retail) पर भारी-भरकम कर्ज ने इसे खत्म कर दिया. कॉरपोरेट दिवाला समाधान प्रक्रिया के तहत कंपनी को 33 वित्तीय लेनदारों (Financial Creditors) से 21,000 करोड़ रुपये से ज्यादा के दावे मिले हुए हैं. (नोट: शेयर बाजार में निवेश से पहले वित्तीय सलाहकार की मदद जरूर लें)

रेटिंग: 4.64
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 583