DEMAT अकाउंट खोलने के लिए आपको अलग से कुछ करने की जरुरत नहीं होती, बस आपको एक ऐसे स्टॉक ब्रोकर या बैंक के पास जाकर एप्लीकेशन देना है, जो DEMAT अकाउंट खोलने की सुविधा देता है,

Zerodha

How to open Demat Account, what are the benefits of opening it? डीमैट अकाउंट कैसे खोले, इसे खोलने के क्या लाभ हैं?

demat account, डीमैट अकाउंट, डीमैट अकाउंट कैसे खोले, how to open demat account, demat account opening benefits, what is demat account,demat account opening documents, demat account kholne ke labh, demat account kaise khole, financial scheme, govt scheme, digital share trading process

Table Of Content

How to open Demat Account, what are the benefits of opening it? डीमैट अकाउंट कैसे खोले, इसे खोलने के क्या लाभ हैं?

जिस प्रकार से बैंक में फिक्स्ड डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स डिपाजिट /एफडी में निवेश करने के लिए बैंक खाता होनाing account आवश्यक है। ठीक उसी प्रकार पूंजी को शेयर मार्किट में निवेश करने के लिए डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य है। शेयर मार्किट में पूंजी निवेश करने की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए 1996 डिपॉजिटरी एक्ट बनायी गयी। इस एक्ट के अनुसार कंपनी के शेयर खरीदने और बेचने की प्रक्रिया को डिजिटल रूप दे दिया गया है। डीमैट अकाउंट में शेयर के डाक्यूमेंट्स के अतिरिक्त म्युचुअल फंड, बांड, डिबेंचर एवं सरकारी सिक्योरिटीज भी रखा जा सकता है। इस खाते को खोलने के लिए भरतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Sebi) द्वारा दो डिपाजिटरी अधिकृत की गयी है – एनएसडीएल और सीडीएसएल। इन दोनों डिपाजिटरी के अंतर्गत डीपी (डिपाजिटरी पार्टिसिपेंट) होते हैं। डिपाजिटरी पार्टिसिपेंट कोई बैंक, ब्रोकर , वित्तीय संस्थान हो सकते हैं। एनएसडीएल और सीडीएसएल संस्था के अंतर्गत रजिस्टर्ड डीपी के माध्यम से डीमैट अकाउंट ऑनलाइन खोला जा सकता है। आइये जाने डीमैट खाता किस खोला जा सकता है और इसे खोलने के क्या लाभ हैं?

Demat Account opening Documents डीमैट खाता खोलने के दस्तावेज

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स
  • बैंक बचत खाता के पासबुक के पहले पेज की फोटोकॉपी

डीमैट अकाउंट एनएसडीएल और सीडीएसएल संस्था में से किसी एक से रजिस्टर्ड डीपी की मदद से खुलवाया जा सकता है जैसे – एचडीएफसी सिक्योरिटीज, आईसीआईसीआई डायरेक्ट, एक्सिस डायरेक्ट, फेयर और जेरोदा को किसी भी ब्रोकरेज में जाकर खोला जा सकता है।

  • अपनी सुविधानुसार डिपाजिटरी पार्टिसिपेंट की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अपना नाम,मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, निवास स्थान का एड्रेस आदि लिख कर फॉर्म भरने के माध्यम से वेबसाइट पर रजिस्टर करना होगा।
  • इसके बाद आपके द्वारा दर्ज किये गए मोबाइल नंबर पर ओटिपी का मेसेज प्राप्त होगा।
  • otp लिखने के बाद वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जायेगी।
  • इसके बाद डीपी संस्था का एग्जीक्यूटिव आपके एड्रेस पर मिलने का टाइम बुक करेगा।
  • फिर तय समय पर आकर डीमैट अकाउंट से सम्बंधित डाक्यूमेंट्स की हार्ड कॉपी लेने और अकाउंट खोलने का फॉर्म भरने की प्रक्रिया पूरी करेगा। इस प्रकार आपका डीमैट अकाउंट खुल जाएगा।
  • एक रजिस्टर्ड डीपी संस्था में अधिकतम तीन डीमैट अकाउंट खोला जा सकता है। इसके अतिरिक्त बैंक अकाउंट की हीं तरह एक से अधिक डीपी के अंतर्गत डीमैट अकाउंट खोल जा सकता है।

Demat Account: डीमैट खाता खोलने से जुड़ी जानकारी यहां लें, आपके लिए हैं काम की

By: ABP Live | Updated at : 22 Mar 2022 12:19 PM (IST)

Edited By: Meenakshi

Demat Account: शेयर बाजार में निवेश के लिए सबसे पहले आपको डीमैट अकाउंट खुलवाना जरूरी है. कई बार इसके लिए लोगों को जानकारी नहीं मिल पाती है और इसके लिए उन्हें परेशानी उठानी पड़ सकती है. डीमैच अकाउंट ऑनलाइन या फिजिकल मोड में खोला जा सकता है. डीमैट अकाउंट के लिए आप ब्रोकरेज कंपनी या स्टॉक ब्रोकिंग फर्म में अकाउंट खुलवा सकते हैं.

क्या है सेबी का आदेश
SEBI का आदेश है कि सभी तरह के शेयर ट्रेडिंग के लिए फिजिकल या ऑनलाइन मोड से डीमैट खाता खुलवाना जरूरी है. शेयर बाजार में पैसा लगाने के लिए डीमैट अकाउंट की जरूरत होती है और इसे कैसे खोला जा सकता है आप यहां जान सकते हैं.

कैसे खोला जा सकता है Demat अकाउंट
ऑनलाइन तरीके से डीमैट अकाउंट 18 साल से ऊपर की उम्र का कोई भी शख्स खोल सकता है. डिजिटल तरीके से डीमैट या ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए पहले फैसला कर लें कि आप किस कंपनी या ब्रोकरेज फर्म के जरिए ये खाता खोलना चाहते हैं.

ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे करें | ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट कैसे खोलें | Open online Trading Account

ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट कैसे खोलें

इस पोस्ट में क्या है ?

Open online Trading Account

Open online Trading Account :- ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट खोलने से पहले आप सभी को पता होना चाहिए कि ऑनलाइन ट्रेडिंग क्या है। Open online Trading Account । क्या शेयर ट्रेडिंग ऑपरेट कैसे करते हैं। ट्रेडिंग अकाउंट आर्डर कैसे लगाते हैं। यह सारी जानकारी आज के इस ब्लॉग में मिल जाएंगे। -Open online Trading Account

ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए Document

  • पैन कार्ड/Pan Card
  • एड्रेस प्रूफ /Address proof
  • बैंक विवरण का प्रमाण/Bank Statement
  • आय का प्रमाण /Income Proof
  • हस्ताक्षर / Signature
  • Live Photo / लाइव फोटो
  • वोटर कार्ड / Voter Card
  • आधार कार्ड / Adhar Card
  • फोटो के साथ PAN कार्ड / Pan Card
  • पासपोर्ट Passport
  • ड्राइविंग लाइसेंस Driving Licence
  • कॉलेज आइडेंटिटी कार्ड / Id Card

पते के प्रमाण के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

ऑनलाइन ट्रेडिंग डीमैट अकाउंट एड्रेस प्रूफ

  • किसी भी सर्विस प्रोवाइडर (बिजली, टेलीफोन, पोस्ट-पेड सेल फोन, गैस पाइपलाइन, डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स पानी बिल) से दो महीने से कम दिनांकित
  • यूटिलिटी बिल.
  • बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
  • भूमि रसीद
  • राशन कार्ड

क्या संयुक्त नामों में डीमैट अकाउंट खोला जा सकता है?

ऑनलाइन ट्रेडिंग डीमैट अकाउंट खोला जा सकता है। जॉइंट डीमैट अकाउंट में अधिकतम 3 नाम जोड़े जा सकते हैं-

ऑनलाइन ट्रेडिंग List of ChargesLink Here

How to open Demat Account, what are the benefits of opening it? डीमैट अकाउंट कैसे खोले, इसे खोलने के क्या लाभ हैं?

demat account, डीमैट अकाउंट, डीमैट अकाउंट कैसे खोले, how to open demat account, demat account opening benefits, what is demat account,demat account opening documents, डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स demat account kholne ke labh, demat account kaise khole, financial scheme, govt scheme, digital share trading डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स process

Table Of Content

How to open Demat Account, what are the benefits of opening it? डीमैट अकाउंट कैसे खोले, इसे खोलने के क्या लाभ हैं?

जिस प्रकार से बैंक में फिक्स्ड डिपाजिट /एफडी में निवेश करने के लिए बैंक खाता होनाing account आवश्यक है। ठीक उसी प्रकार पूंजी को शेयर मार्किट में निवेश करने के लिए डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य है। शेयर मार्किट में पूंजी निवेश करने की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए 1996 डिपॉजिटरी एक्ट बनायी गयी। इस एक्ट के अनुसार कंपनी के शेयर खरीदने और बेचने की प्रक्रिया को डिजिटल रूप दे दिया गया है। डीमैट अकाउंट में शेयर के डाक्यूमेंट्स के अतिरिक्त म्युचुअल फंड, बांड, डिबेंचर एवं सरकारी सिक्योरिटीज भी रखा जा सकता है। इस खाते को खोलने के लिए भरतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Sebi) द्वारा दो डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स डिपाजिटरी अधिकृत की गयी है – एनएसडीएल और सीडीएसएल। इन दोनों डिपाजिटरी के अंतर्गत डीपी (डिपाजिटरी पार्टिसिपेंट) होते हैं। डिपाजिटरी पार्टिसिपेंट कोई बैंक, ब्रोकर , वित्तीय संस्थान हो सकते हैं। एनएसडीएल और सीडीएसएल संस्था के अंतर्गत रजिस्टर्ड डीपी के माध्यम से डीमैट अकाउंट ऑनलाइन खोला जा सकता है। आइये जाने डीमैट खाता किस खोला जा सकता है और इसे खोलने के क्या लाभ हैं?

Demat Account opening Documents डीमैट खाता खोलने के दस्तावेज

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • बैंक बचत खाता के पासबुक के पहले पेज की फोटोकॉपी

डीमैट अकाउंट एनएसडीएल और सीडीएसएल संस्था में से किसी एक से रजिस्टर्ड डीपी की मदद से खुलवाया जा सकता है जैसे – एचडीएफसी सिक्योरिटीज, आईसीआईसीआई डायरेक्ट, एक्सिस डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स डायरेक्ट, फेयर और जेरोदा को किसी भी ब्रोकरेज में जाकर खोला जा सकता है।

  • अपनी सुविधानुसार डिपाजिटरी पार्टिसिपेंट की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अपना नाम,मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, निवास स्थान का एड्रेस आदि लिख कर फॉर्म भरने के माध्यम से वेबसाइट पर रजिस्टर करना होगा।
  • इसके बाद आपके द्वारा दर्ज किये गए मोबाइल नंबर पर ओटिपी का मेसेज प्राप्त होगा।
  • otp लिखने के बाद वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जायेगी।
  • इसके बाद डीपी संस्था का एग्जीक्यूटिव आपके एड्रेस डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स पर मिलने का टाइम बुक करेगा।
  • फिर तय समय पर आकर डीमैट अकाउंट से सम्बंधित डाक्यूमेंट्स की हार्ड कॉपी लेने और अकाउंट खोलने का फॉर्म भरने की प्रक्रिया पूरी करेगा। इस प्रकार आपका डीमैट अकाउंट खुल जाएगा।
  • एक रजिस्टर्ड डीपी संस्था में अधिकतम तीन डीमैट अकाउंट खोला जा सकता है। इसके अतिरिक्त बैंक अकाउंट की हीं तरह एक से अधिक डीपी के अंतर्गत डीमैट अकाउंट खोल जा सकता है।

Benefits of opening a Demat Account डीमैट अकाउंट खोलने के लाभ

  • डीमैट अकाउंट के माध्यम से ऑनलाइन शेयर किसी दुसरे व्यक्ति के डीमैट अकाउंट में ट्रान्सफर किया जा सकता है। इसके लिए स्टाम्प ड्यूटी नहीं लगती है।
  • इस अकाउंट की सुविधा होने से शेयर बेचने या खरीदने पर दो दिन के अन्दर खाते में हस्तांरित हो जाती है। पहले महीनों का वक्त लग जाता था।
  • डीमैट अकाउंट में शेयर के डाक्यूमेंट्स डिजिटल रूप में सुरक्षित रहने से खोने या चोरी होने का खतरा नहीं रहता है।
  • शेयर खरीदते , हस्तांतरित करते या बेचते समय किसी प्रकार के भौतिक डाक्यूमेंट्स को दिखाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।
  • पहले केवल एक शेयर को बेचा और खरीदा नहीं जा सकता था। किन्तु अब डीमैट अकाउंट के जरिये ऑनलाइन केवल एक शेयर भी बेचा और ख़रीदा जा सकता है।

योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करिए।

DEMAT ACCOUNT खोलने के लिए आवश्यक DOCUMENTS

आपने अपना बैंक अकाउंट खोलने के लिए बैंक अकाउंट ओपनिंग फॉर्म के साथ साथ जो भी डॉक्यूमेंट बैंक को दिया होगा, वही डॉक्यूमेंट आपको DEMAT अकाउंट के लिए भी देना होता है,

DEMAT अकाउंट ओपन करने के लिए डॉक्यूमेंट की लिस्ट

पैन कार्ड और अब आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है,

इसके साथ साथ आप अपने Address को कन्फर्म करने लिए आप अन्य डाक्यूमेंट्स भी दे सकते है –

  • एम्प्लोयी आईडी
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर आईडी
  • इलेक्ट्रिसिटी बिल/ लैंडलाइन बिल
  • पासपोर्ट
  • राशन कार्ड
  • आईटी रिटर्न्स
  • बैंक स्टेटमेंट

इस तरह आपको सभी डॉक्यूमेंट देने की जरुरत नहीं है, Demat अकाउंट के लिए आपसे पैन कार्ड और आधार कार्ड अनिवार्य रूप से माँगा जायेगा, और साथ में अगर जरुरत पड़ती तो आपको अन्य डाक्यूमेंट्स में से कुछ देने होंगे, सभी नहीं.

रेटिंग: 4.23
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 140